विज्ञान का लोकप्रियकरण

 

 

लोकप्रिय विज्ञान पत्रिकाएं        लोकप्रिय विज्ञान पुस्तकें        सूचना प्रौद्योगिकी सभी के लिए

राजभाषा पत्रिका संचेतना

जनमानस में विज्ञान का लोकप्रियकरण (प्रचार-प्रसार) करना, निस्केयर का सूचना प्रौद्योगिकी एक प्रमुख कार्यक्रम है। जिसके अन्तर्गत संस्थान लोकप्रिय विज्ञान पत्रिकाओं तथा पुस्तकों का प्रकाशन किया जाता है।

 

लोकप्रिय विज्ञान पत्रिकाएं

निस्केयर तीन सुप्रसिद्ध लोकप्रिय विज्ञान पत्रिकाओं साइंस रिपोर्टर (अंग्रेजी मासिक), विज्ञान प्रगति (हिन्दी मासिक) तथा साइंस की दुनिया (उर्दू त्रैमासिक) का प्रकाशन करता हे। इन पत्रिकाओं में समसामायिक वैज्ञानिक विषयों पर सूचनाप्रद लोकप्रिय वैज्ञानिक लेख प्रकाशित किए जाते हैं। इसके अतिरिक्त इनमें हास्य-व्यंग्य, गल्प, पहेलियां, प्रश्नोत्तरी तथा वर्ग पहेलियां, आश्चर्यजनक वैज्ञानिक तथ्य, आविष्कारों तथा खोजों, साइंस प्रोजेक्ट तथा वैज्ञानिकों की जीवनी आदि शामिल है।

 

लोकप्रिय विज्ञान पुस्तकें

निस्केयर से अब तक अंग्रेजी में साठ से अधिक लोकप्रिय विज्ञान पुस्तकें विभिन्न श्रृंखलाओं जैसे- सीएसआईआर स्वर्ण जयन्ती श्रृंखला (25), साइं-फन श्रृंखला (7), क्यू-श्रृंखला (3), जैव प्रौद्योगिकी के आयाम श्रृंखला (10), जैव प्रौद्योगिकी की स्थापना श्रृंखला (6), अन्य (9), गोल्डन ट्रेजरी ऑफ साइंस एंड टैक्नोलाजी विश्वकोश (नया वृहद हीरक जयन्ती संस्करण) के अन्तर्गत प्रकाशित की जा चुकी हैं। साथ ही 28 पुस्तकें हिन्दी में भी प्रकाशित की जा चुकी हैं। निस्केयर की सभी लोकप्रिय पुस्तकें बहुत पसंद की गई है तथा उनकी मांग को देखते हुए कई पुस्तकें दो तीन बार पुनर्मुद्रित भी करायी गयी।

 

सूचना प्रौद्योगिकी सब के लिए

संस्थान ने आईटी फॉर ऑल नामक एक नई पुस्तक श्रृंखला की शुरूआत की है। इन पुस्तकों के शीर्षकों में माइक्रोसॉफ्ट पॉवर प्वांइट, वेब डॉट कॉम, बिल्ड योर वेब होम, सी++ फॉर बिग्नर्स, सी एडवेन्चर, विजुअल बेसिक माइक्रोसॉफ्ट पावर प्वांइट (हिन्दी), माइक्रोसॉफ्ट वर्ड प्रवेशिका (हिन्दी) सम्मिलित हैं। अंग्रेजी के अतिरिक्त सभी सातों पुस्तकें हिन्दी, पंजाबी, उर्दू, कन्नड़, गुजराती, मराठी, तमिल, बंगाली तथा मलयाली भाषा में भी उपलब्ध हैं।

 

लोकप्रिय विज्ञान पत्रिकाएं

साइंस रिपोर्टर

मासिक, आईएसएसएनः 0036-8512 (भाषा-अंग्रेजी)

 

 

वर्ष 1964 में आरम्भ साइंस रिपोर्टर, भारत की अंग्रेजी में प्रकाशित होने वाली लोकप्रिय विज्ञान मासिक पत्रिकाओं में से एक सबसे पुरानी पत्रिका है। इसके पूरे देश में बृहत प्रसार संख्या है। भारतवासियों को अपनी वैज्ञानिक संस्थाओं द्वारा विकसित की जा रही असंख्य प्रौद्योगिकियों से परिचित करवाने के अपने आरम्भिक उद्देश्य के साथ साइंस रिपोर्टर ने आज राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं में विकसित प्रौद्योगिकियों के बारे में सूचना देने वाले माध्यम से भी ज्यादा बहुत प्रगति कर ली है। आज यह देश में विज्ञान, विज्ञान नीति के तथ्यों, भविष्य में भारत में वैज्ञानिक विकास के लिये भारत द्वारा लिये जाने वाले कदमों पर चर्चा आदि के विचारों के आदान-प्रदान का एक लोकप्रिय मंच बन गई है। इसके अतिरिक्त विश्व में विज्ञान के नवीनतम विकास के बारे में जानने के इच्छुक छात्रों के लिए यह एकमात्र स्रोत है। विदेशी-वैज्ञानिक अनुसंधान पत्रिकाओं की पहुंच से दूर रहने वालों को साइंस रिपोर्टर में विस्तृत सूचनाओं का जो संग्रह मिलता है, वह केवल प्रतियोगी परीक्षाओं में बल्कि उनके सम्पूर्ण कैरियर के लिए सहायक होता है। साइंस रिपोर्टर के लेखकों में राष्ट्रीय एवं अन्तरराष्ट्रीय स्तर के सुप्रसिद्ध वैज्ञानिक शामिल हैं। इसी के साथ ही यह भावी लेखकों को लिखने के लिए सम्पादकीय निर्देशन द्वारा प्रोत्साहित भी करती है।

साइंस रिपोर्टर ज्वलन्त वैज्ञानिक घटनाओं की रिपोर्टिंग में सदा आगे रही है चाहे वे ज्वालामुखी विस्फोट की हो, भू-स्खलन, भूकम्प या तेल रिसाव की। क्लोनिंग, सैटेलाइट लांचिंग या मानव जीनोम परियोजना जैसे विषयों पर तो महत्वपूर्ण विशेषांक प्रकाशित किए गये हैं। भारतीय विज्ञान प्रौद्योगिकी की सफलताओं पर दो वर्ष तक चली लम्बी श्रृंखला- इंडिया कैन डू इट को अत्याधिक प्रशंसा मिली है। समय-समय पर विभिन्न विषयों जैसे शान्तिस्वरूप भटनागर, सी.वी. रामन, रामानुजन, बीरबल साहनी एवं एम.एन. साह आदि पर विशेषांकों का प्रकाशन किया गया है।

अपने प्रत्येक अंक में साइंस रिपोर्टर हास्य-व्यंग्य, विज्ञान-गल्प, पहेलियां, विज्ञान प्रोजेक्टों तथा क्रॉस-वर्ड के साथ-साथ सामान्य विषयों जैसे-कम्प्यूटर पर्यावरण, स्वास्थ्य एवं अन्य कई विषयों पर मिले-जुले स्तम्भों को प्रकाशित करती है।

सदस्यता

एक साल

Rs.300/-

US$ 90(Air Mail)

दो साल

Rs.570/-

 

तीन साल

Rs.810/-

 

सम्पादक

श्री हसन जावेद खान

ईमेल:  hjk@niscair.res.in 

    

 

 

विज्ञान प्रगति

मासिक, अंकः 52, आईएसएसएनः 0042-6075 (भाषा-हिन्दी)

स्वतंत्रता प्राप्ति के पश्चात जब हिन्दी को समुचित स्थान दिलाने के प्रयास किए जा रहे थे, तो वैज्ञानिक एवं औद्योगिक परिषद ने मानस में, हिन्दी भाषा के विज्ञान के प्रचार-प्रसार के लिये एक दूरदर्शी निर्णय लिया और फलस्वरूप 1952 में लोकप्रिय विज्ञान पत्रिका विज्ञान प्रगति का प्रकाशन आरम्भ हुआ। आरम्भ में यह पत्रिका एक न्यूज लैटर के रूप में, सीएसआईआर की प्रयोगशालाओं में किए जा रहे वैज्ञानिक अनुसंधानों के बारे में प्रकाशित करती थी। बाद में इसका प्रकाशन जनमानस में वैज्ञानिक दृष्टिकोण जगाने तथा अंधविश्वास से छुटकारा दिलाने के लिए एक लोकप्रिय पत्रिका के रूप में किया जाने लगा, तब से अपने नाम के अनुरूप लोगों को विज्ञान प्रगति विज्ञान की प्रगति के बारे में जानकारी देती रही है। जनवरी 1996 में पत्रिका ने अपने प्रकाशन के 50 वर्ष पूरे कर, हिन्दी विज्ञान पत्रकारिता में एक महत्वपूर्ण मील के पत्थर स्थापित किया है।

अपने उद्देश्य जनमानस के लिए विज्ञान के अनुसार यह भारतीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के योगदान को मानव-कल्याण तथा उसके समाज पर प्रभाव के विभिन्न क्षेत्रों पर जानकारी प्रदान करती है। इस पत्रिका में अपना अमूल्य सहयोग देने वालों में श्री शिवराज पाटिल, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष, डॉ. एस.जेड. कासिम, पूर्व सदस्य (विज्ञान) योजना आयोग, डॉ. आर.. माशेलकर, महानिदेशक, सीएसआईआर, डॉ. . रहमान, पूर्व निदेशक निस्टैड्स, प्रो. यशपाल, डॉ. एन. विट्ठल तथा प्रसिद्ध समाजशास्त्री (स्व.) प्रो. एस.सी. दूबे सम्मिलित हैं।

विज्ञान प्रगति विभिन्न सामयिक विषयों पर िशेषांकों का प्रकाशन करती है तथा एक वार्षिक विज्ञान पहेली का भी आयोजन किया जाता है। इसकी लोकप्रियता का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि इसकी प्रसार संख्या सभी लोकप्रिय विज्ञान पत्रिकाओं में से सर्वाधिक है। देश के दूर-दराज के क्षेत्रों में इस पत्रिका के 10-11 लाख से ज्यादा पाठक होंगे तथा कुछ देश की सीमा से बाहर भी।

 

 

सदस्यता

एक साल

Rs.300/-

US$ 90 

(Air Mail)

दो साल

Rs.570/-

 

तीन साल

Rs.810/-

 

सम्पादक

डॉ बालक राम

ईमेलः balak@niscair.res.in 

   

 

 

साइंस की दुनिया

त्रैमासिक, अंक-29 (भाषा-उर्दू)

 

1975 में आरम्भ, साइंस की दुनिया भारत की उर्दू में एकमात्र लोकप्रिय वैज्ञानिक अनुसंधान पत्रिका है। पिछले 25 वर्षों में इस त्रैमासिक अनुसंधान पत्रिका में विभिन्न वैज्ञानिकों जैसे-प्रो. अब्दुस सलाम (नोबेल पुरस्कार से अंलकृत), प्रो. डी.एस. कोठारी, प्रो. .आर. किदवई, प्रो. .एम. खुसरो, कृष्णलाल, प्रो. एम. शफी तथा प्रो. . रहमान के लेख प्रकाशित हुए हैं।

पिछले कई वर्षों से साइंस की यदुनिया में विभिन्न सामयिक विषयों पर जैसे हाई-टैक सिटी हैदराबाद, पोखरण- नाभिकीय विस्फोट, पूर्ण सूर्य-ग्रहण, इन्सैट उपग्रह प्रक्षेपण आदि पर लेख प्रकाशित हुये हैं। कुछ विषय जैसे अंर्टाकटिका, नेहरू और विज्ञान, सी.वी. रामन, रामनुजन, पर्यावरण तथा बाल-विशेषांक आदि पर प्रशंसा पूर्ण विशेषांक प्रकाशित किये गये हैं।

आज साइंस की दुनिया स्तम्भों जैसे-साइंस क्विज़, साइंस मॉडल्स, अपराध तथा विज्ञान, कार्टून, विज्ञान समाचार तथा बच्चों के लिए विज्ञान आदि के अतिरिक्त अन्य सामयिक विषयों पर आत्मसात करने वाले लेख प्रत्येक अंक में प्रकाशित करती है।

 

सदस्यता

एक साल

Rs.30/-

US$ 10 

(Air Mail)

दो साल

Rs.50/-

 

तीन साल

Rs.60/-

 

   

 

 

 

 

लोकप्रिय विज्ञान पुस्तकें

संपर्क व्यक्तिः

 श्री .के. श्रीवास्तव , बिक्री एवं वितरण अधिकारी

 (sales@niscair.res.in)

एड्स: एक घातक गेटवे

21 वीं सदी के शुरू में एड्स महामारी के बारे में सामान्य जागरूकता के लिए अद्यतन जानकारी, एड्स का कारण घातक वायरस एचआईवी, इसकी निवारक पहल, देखभाल और उपचार के बारे में बताता है।एड्स के बारे में स्पष्ट तरीके से जानकारी प्रस्तुत करता है तथा विशेष रूप से एड्स से पीड़ित लोगों के लिए महत्वपूर्ण प्रयासों और निवारक के बारे में भी जानकारी उपलब्ध है।

लेखकः पारुल आर. सेठ

आईएसबीएनः 81-7236-244-7

मूल्यः 50/-


   

 

सीएसआईआर स्वर्ण जयन्ती श्रृंखला

गोल्डन ट्रेजरी ऑफ साइंस एंड टैक्नोलॉजी (नवीन बृहत हीरक जयन्ती संस्करण)

वैज्ञानिक शब्दों के रहस्य उजागर कती, भारत के योगदानों पर प्रकाश डालती सुप्रसिद्ध वैज्ञानिकों की जीवनियों की जानकारी देती तथा अनुसंधान के अग्रिम क्षेत्रों की जानाकारी देती, खोज के एक सफर में सूचनाओं का अमूल्य खजाना उपलब्ध कराती है।

आईएसबीएनः 81-7236-235-8

मूल्यः 250/-
   

 

मैटर ऑफ चान्स

संभाव्यता के सिद्धान्त का परिचय, इसकी जटिलताएं तथा सामान्य पाठकों के लिए उपयोगों प्रयोगों का विस्तृत क्षेत्र।

लेखकः के.डी. पवाटे

आईएसबीएनः 81-7236-133-5

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

आर्टिफिशियल इंटेलीजेस

कृत्रिम बुद्धि अनुसंधान के विभिन्न पहलुओं के आवरणों को उजागर करती है। कम्प्यूटर प्रौद्योगिकी का धन्यवाद, जिसने मशीनी कृत्रिम बुद्धिमता को संतुलित किया, अब मानव सोच की क्षमता को आगे बढ़ाना ज्यादा दूर नहीं रहा है।

लेखकः के.डी. पवाटे

आईएसबीएनः 81-7236-035-5

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00


   

 

बी वैदरवाइज

मौसम प्रबंधन शक्तियों पर एक नजर, इसके सामाजिक-आर्थिक प्रभाव, मानव गतिविधियों के प्रभाव तथा तरीके, इसकी भविष्यवाणियां करने के प्रकार को बताती है।

लेखकः एस.एम. कुलश्रेष्ठ

आईएसबीएनः 81-7236-184-X

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

बियॉण्ड ह्यूमन आई

मानव प्रवीणता द्वारा कैसे सूक्ष्मदर्शी का विकास हुआ और उसके विज्ञान के विकास में योगदान की कहानी

लेखकः पी.डी. गुप्ता

आईएसबीएनः 81-7236-116-5

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

बॉडीज बैटल्स

हमारे सुरक्षा तंत्र की संरचना की विविधता तथा विशेषताओं और विधिवत तरीके, जिसके कारण यह हर समय शरीर को मिलने वाली काल्पनिक धमकियों से सजग करती है और किस तरह हमारा शरीर अधिकतर लड़ाईयों में विजय पाता है, का रहस्योद्घाटन करती है।

लेखकः बाल फोंडके

आईएसबीएनः 81-7236-039-8

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

सिरामिक्स आर फॉर एवर

एक-एक बात को स्पष्ट करती है कि किस तरह धरती के नीचे की बेकार राख से उपजे तत्व आज बाहरी अंतरिक्ष तक पहुंच रहे हैं।

लेखकः बी.सी. शर्मा

आईएसबीएनः 81-7236-060-6

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

डिटेक्टिव डीएनए

डीएनए प्रोफाइल में संलग्न कृत्रिम आधुनिक जैव प्रौद्योगिकी उसके विस्तृत अनुप्रयोगों को अत्यंत स्पष्ट वर्णन।

लेखकः पी. चीना चावला

आईएसबीएनः 81-7236-175-0

मूल्यः 40/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

एंजाइम्स एवरीवेयर

उन विभिन्न विचित्र स्थानों की पहचान कराती है जहां एंजाइम काम करते है और इस बात को सिद्ध करती है कि एंजाइम हर जगह पाये जाते हैं।

लेखकः जे.जे. शेवाले

आईएसबीएनः 81-7236-141-6

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00


   

 

हार्डी कम्पोजिट्स

अपने सुदृढ़ यौगिकों के कारण संभवतः आज अपने सर्वोच्च शिखर पर स्थित कृत्रिम युग के लाभों की पूरे हुनर के साथ व्याख्या करती है।

लेखकःएन.एस.के. प्रसाद

आईएसबीएनः 81-7236-1049-5

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

हिज मास्टर्स स्लेव

पूर्ण रूप से अपने मालिक का गुलाम, आधुनिक समय के बोतल का जिन्न, पीसी संरचना की विस्तृत जानकारी की कहानी का रहस्योद्घाटन करती है।

लेखकः तपन भट्टाचार्य

आईएसबीएनः 81-7236-018-5

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

होलोग्राफी

वैज्ञानिकों तथा प्रौद्योगिकीविदों के लिए एक अत्यावश्यक औजार बनने की क्षमता रखने वाली प्रौद्योगिकी की जानकारी पाठकों को उपलब्ध कराती है।

लेखकः एम.जी. जोशी

आईएसबीएनः 81-7236-169-6

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

इंफॉर्मेशन हाइवेज

सूचना पथों के नेटवर्क को मानव उत्थान के अतिशय लाभ के लिए उपलब्ध कराने का विस्तृत वर्णन करती है।

लेखकः के.डी. पवाटे

आईएसबीएनः 81-7236-088-6

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

इंसाइड स्टार्स

तारों के संसार में समाहित अचम्भित और आश्चर्यजनक खगोलीय रहस्यों को उजागर करती है।

लेखकः बिमान बासू

आईएसबीएनः 81-7236-022-3

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

लाइफः फ्रॉम सेल टू सेल

जीवन की रोचक कहानी- कोशिका से कोशिका तक एक खत्म होने वाला सफर।

लेखकः बाल फोंडके

आईएसबीएनः 81-7236-037-1

मूल्यः 20/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

लाइफ इन यूनिवर्स

जीवन की उत्पति विकास को एक अच्छी पकड़ के साथ वर्णित करती है और एक अनन्त प्रश्न उलझन में डालता है कि क्या ब्रह्मांड में कहीं अन्यत्र भी जीवन है?

लेखकः बाल फोंडके, एम.एस. चड्ढा

आईएसबीएनः 81-7236-084-3

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

मैन इन स्पेस

यह पुस्तक भविष्य के अंतरिक्ष स्टेशनों तथा नयी बस्तियों में पाठकों को ले जाती है जो कि वास्तव में मानव को अंतरिक्ष में पहुंचा देती है।

लेखकः पी. राधाकृष्णन

आईएसबीएनः 81-7236-051-7

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00


   

 

मैटिरियली योअर्स

ठोस पदार्थों में रासायनिक बन्धों से लेकर तथा सामान्य रूपों की जिनमें कार्बन प्रकृति में उपस्थित के विभिन्न चुम्बकीय पदार्थों के रूप में मिलता है और उनकी विशेषताओं तक के कई मूलभूत सिद्धान्तों द्वारा पाठकों के दिमाग को तरोताजा करती है।

लेखकः डी. एन. बोस

आईएसबीएनः 81-7236-110-6

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

माइंड मास्टर

मन के रहस्यों को सुलझाती तथा मस्तिष्क के रहस्यों को खेलती है।

लेखक:मेधा राजध्यक्ष

आईएसबीएनः 81-7236-045-2

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

माइनिंग ओशियन

समुद्र के अन्तहीन रहस्यों को खोलती है। समुद्र के गर्भ में छुपे संरक्षित एवं मानव द्वारा उन्हें पाने के लिए महासागरीय खनन के प्रयासों को अच्छी तरह विस्तार से बताती है।

लेखकः टी.के.एस. मूर्ति

आईएसबीएनः 81-7236-014-2

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

नोबेल बॉयोपेस्टिसाइड्स

जैवनाशी उद्योगों के उद्भव का वर्णन तथा नये प्रकार के जैव जीवनाशियों के विकास को उजागर करती है।

लेखकः एम.वी. देशपांडेय

आईएसबीएनः 81-7236-186-6

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

प्लास्टिक फीस्ट

आज और संभवतः भविष्य में उपलब्ध विभिन्न प्रकार के प्लास्टिक उत्पादों के संसाधन की क्रिया का वर्णन करती है।

लेखकः सुबोध जावडेकर

आईएसबीएनः 81-7236-030-4

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

स्विच ऑन सन

सौर शक्ति के अनुप्रयोगों को पाठकों को स्पष्ट करती है।

लेखकः तपन भट्टाचार्य

आईएसबीएनः 81-7236-107-6

मूल्यः 40/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

साइं-फन श्रृंखला

बब्बल बब्बल

बुलबुलों के सुन्दर, रंग-बिरंगे और क्षणिक संसार में पाठकों को ले जाती है।

लेखकः हेम शंकर रे

आईएसबीएनः 81-7236-164-5

मूल्यः 40/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

डेजर्ट्स

रेगिस्तान की रोचक कहानी पर प्रकाश डालती है।

लेखकः विनीता सिंघल

आईएसबीएनः 81-7236-169-9

मूल्यः 40/- अमेरिकी $ 3.00


   

 

फैबूलस फ्रैब्रिक्स

कपड़े की बुनाई, छपाई और रंगाई की रोचक कहानी

लेखकः नीलू श्रीवास्तव

आईएसबीएनः 81-7236-132-7

मूल्यः 40/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

रेन-रेन कम अगेन

अपने वार्षिक पड़ाव विश्राम स्थल के लिए, समुद्रों पहाड़ों पर, बादलों के साथ पाठकों को एक रोमांचक यात्रा पर ले जाती है।

लेखकः सुकन्या दत्ता

आईएसबीएनः 81-7236-138-6

मूल्यः 40/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

स्ट्रेंज प्लांटस

धरा के प्रथम प्राणी, पौधों के रोचक और अनोखे संसार की खोज

लेखकः पारुल आर. सेठ

आईएसबीएनः 81-7236-182-3

मूल्यः 40/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

क्यू सीरीज

 

हाऊ

हाऊ से शुरू होने वाले 100 विभिन्न सामान्य किन्तु उथल-पुथल मचा देने वाले विज्ञान के प्रश्न

आईएसबीएनः 81-7236-142-4

मूल्यः 50/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

व्हाई

व्हाई से शुरू होने वाले 100 विभिन्न सामान्य किन्तु उथल-पुथल मचा देने वाले प्रश्न

आईएसबीएनः 81-7236-160-2

मूल्यः 60/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

जैव प्रौद्योगिकी के आयाम श्रृंखला विस्टास इन बायोटैक्नोलॉजी सीरीज

 

ब्रेन एंड बिहेवियर

मानव मस्तिष्क के कार्य करने के लगभग सभी पहलुओं को एक साथ वर्णित करने का प्रयास करती है। ऐसा करने के लिए एक जनसाधारण की समझ में आने वाली मानव मस्तिष्क स्वभाव के बीच के जटिल संबंधों का वर्णन करती है।

लेखकः सुनील के. पांडेय, निखिल शाह

आईएसबीएनः 81-7236-098-3

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

ब्रेव न्यू जनरेशन

प्रयोगशालाओं से सामने आने वाले आनंददायक तथ्यों को प्रस्तुत किया गया है। उत्तरदायी प्रजनन पर नये जगमगाते विचारों को आलेखित किया गया है जो साक्षी है नयी साहसी पीढ़ी के आने वाले जोशीले दिनों की।

लेखकः तरला डी नान्देडकर, मेघा एस. राजाध्यक्ष

आईएसबीएनः 81-7236-092-4

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00


   

 

क्यूरोबल कैंसर

इसमें इस तथ्य को उजागर किया गया है कि युक्तिसंगत जीवनशैली अपना कर कई तरह के कैंसरों से बचा जा सकता है और कई आधुनिक औषधियों द्वारा कैंसर ठीक भी किया जा सकता है।

लेखकः ए.एन. भिसे

आईएसबीएनः 81-7236-104-1

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00


   

 

जीन्स तथा मीन्स

जैवप्रौद्योगिकी जिससे खाद्य उत्पादन में अतिशय वृद्धि तथा वंशानुगत बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है और मानव जीवन की जननी नये जीवन को अपने अनुरूप बनाने की खोज को विस्तार से बताया गया है और अन्त में यह तथ्य की जीवन के विभिन्न पहलुओं की प्रकृति में विशेष परिवर्तन के कारण जीन हैं।

लेखकः डी. बालासुब्रामणियम

आईएसबीएनः 81-7236-064-9

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

जीन पॉवर

जीवन के अणु की कोशिकीय गतिविधियों के विवरण पर यह पुस्तक इस पर प्रकाश डालती है कि कैसे वैज्ञानिकों ने मानव हित के लिए अपने हिसाब से जोड़तोड़कर जीन शक्ति को सुसज्जित करना सीखा।

लेखकः असीस दत्ता, सुधा भट्टाचार्य

आईएसबीएनः 81-7236-103-3

मूल्यः 20/- अमेरिकी $ 3.00
   

 

हार्मोन हार्मोनी

मानव लाभ के लिए हारमोनों के जोड़-तोड़ का वर्णन अंत में बने रासायनिक गठबंधन का आभार जिससे हार्मोन सामंजस्यता बढ़ी है।

लेखकः पी.डी. गुप्ता

आईएसबीएनः 81-7236-065-7

मूल्यः 30/- अमेरिकी $ 3.00


   

 

ऑपरेशन जीन

जीन चिकित्सा के नये रोचक विकासों पर प्रकाश डालती है जिसके द्वारा अब बहुत-सी जन्मजात विकृतियों को ठीक किया जा सकता हे तथा ऑपरेशन जीन में लगे हुए वैज्ञानिकों की नीतियों, संघर्ष तथा सफलताओं का विस्तृत वर्णन किया गया है।

लेखकः सुकन्या दत्ता

आईएसबीएनः 81-7236-87-8

 मूल्यः 20/-


   

 

शॉट इन आर्म